स्टार्टअप

स्टार्टअप

400 मिलियन स्मार्टफोन और सस्ते 4 जी डेटा के प्रवेश के साथ, टियर III, IV और ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले भारतीय, पहली बार इंटरनेट का अनुभव कर रहे हैं। यह उपयोगकर्ता, 1.3 बिलियन नागरिकों वाले वाले देश की...
भारत में पार्किंग की समस्या कोई नई बात नहीं है और विशेष रूप से मेट्रो शहरों में यह एक बड़ी समस्या है। भले ही आप कहीं भी जा रहे हों, कार्यालय, कार्यस्थल या शॉपिंग मॉल, पार्किंग की जगह ढूँढना...
स्मार्टफोन और सस्ते 4 जी डेटा की लोगों के बीच तेज़ी से बढ़ती पहुंच के साथ, भारतीय नागरिक तेजी से डिजिटल चैनलों को अपना रहे हैं व उनमे दिलचस्पी दिखा रहे हैं। कंटेंट से लेकर वाणिज्य तक, उपयोगकर्ता कंटेंट...
चूंकि भारतीय रेलवे हर दिन 23 मिलियन से ज्यादा यात्रियों के यातायात का साधन बनता है, इसलिए ट्रेन केंद्रित एप्लीकेशन के उपयोग में तेज से वृद्धि देखी जा रही है। ऐसे कई एप हैं जो ट्रेनों से सम्बंधित जानकारी...
एक अनुमान के मुताबिक अप्रैल 2016 में, 350 मिलियन से अधिक भारतीय ऑनलाइन थे और लाखों अधिक लोग पहली बार इंटरनेट से जुड़ रहे थे। गूगल (Google) ने इस क्षेत्र में उभर रहे अवसरों एवं संभावनाओं को जल्द ही...
उपभोक्ता खंड में ई-कॉमर्स के उद्भव के साथ ही ज्यादातर लघु उद्यमों के लिए पिछले कुछ सालों में ऑनलाइन माध्यम से अपना प्रचार, प्रसार करना एक अनिवार्यता सी बन गयी है। जहाँ 2012-13 के काल में B2B क्षेत्र पर...
भारत में लोगों के बीच शिक्षा की पहुंच बेहद ही असमतल है। सरकार (केंद्र एवं राज्य) एवं निजी संस्थानों के द्वारा की जाने वाली तमाम कोशिशों के बावजूद, भारत में उचित गुणवत्ता वाली शिक्षा प्राप्त करना आज भी तमाम...
ऐसे समय में जब बैंक, ऋण क्षेत्र में तमाम समस्यायों से जूझ रहे हैं, तब एक वैकल्पिक ऋण क्षेत्र का तेज़ी से उभरना, प्रगतिशील भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए एक अच्छी खबर है। लेहमन ब्रदर्स में पूर्व निवेश-कर्ता बैंकर आदित्य कुमार...
सदियों से सरकारी नौकरी को एक सुरक्षित कैरियर विकल्प के रुप में जाना जाता रहा है। यह वह क्षेत्र है जिसने हमेशा छात्रों को आकर्षित किया और करता रहेगा। टियर 1 एवं 2 शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों के छात्र सरकारी...
हमारे देश में भले ही अविवाहित होने अथवा छात्र होने के जीवन में तमाम निजी फायदे होते हों, लेकिन जब बात रहने के लिए सही स्थान ढूंढने की हो तो इन्हीं कारणों से आपके लिए राहें मुश्किल हो सकती...
भारत के प्रमुख मेट्रो शहरों में को-वर्किंग स्पेस (जहाँ पर विभिन्न कंपनियों एवं संगठनों में कार्यरत लोग एक ही कार्य स्थल को एक दूसरे के साथ साझा करते हैं) की संकल्पना वर्ष 2013, 2014, 2015 एवं 2016 में काफी...
दिल्ली एवं बेंगलुरु जैसे मेट्रो शहरों में दिन प्रति दिन बढ़ते भारी ट्रैफिक ने शहर के भीतर आवाजाही काफ़ी कष्टदायक व समय ख़र्च करने वाली बना दी है। ट्रैफिक की समस्या के कारण शहर के भीतर ही एक जगह से...
घरेलू ई कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट अब ऑनलाइन ट्रैवल एजेन्सी (OTA) के क्षेत्र में प्रवेश करने पर विचार कर रही है। ऐसा हो जाने पर उपयोगकर्ता फ्लिपकार्ट से फ़्लाइट, ट्रेन, बस व होटल की बुकिंग करा पाएँगे। फ्लिपकार्ट इस समय...
सपनों की उड़ान भरने के लिए सिर्फ़ हौंसलों के पंख ही काफ़ी हैं। छोटे शहरों की महिलाओं को यही सिखाया आत्म निर्भर नाम की एक छोटी सी पहल ने। मथुरा में रहने वाली रचना को रोज़ाना अपने घर से काम...
भारत में किसानों को कृषि क्षेत्र का एक अहम् आधार माना जाता है पर अक्सर एक कुशल वितरण प्रणाली के अभाव में किसानों को उनकी मेहनत और उत्पाद का उचित दाम नहीं मिल पाता है। कृषि क्षेत्र, जोकि देश में ज्यादातर...
आज के समय में ऑनलाइन पुराना सामान बेचना या ख़रीदना कोई बड़ी बात नहीं है पर यह मुश्किल तब होता है जब वह कार जैसी चीज़ हो। कार की मौजूदा हालत से लेकर दाम तक किसी के भी मन...
Zunroof, एक 'सोलर संस्थापन' कंपनी है, जिसके द्वारा लोगों के समक्ष एक अनोखा मॉडल प्रस्तावित किया जा रहा है-इसके द्वारा घरों में आ रहे बिजली बिल को शून्य में तब्दील किया जा सकता है. आईआईटी खरगपुर के 2 छात्र, प्रणेश...