भारत में इंटरनेट का विस्तार 33 प्रतिशत बढ़ा; 18 महीने में उपयोगकर्ताओं की संख्या 560 मिलियन हुई

सस्ते डेटा व उसकी सहायक आधारिक संरचना के चलते भारत ने इंटरनेट विस्तार क्षेत्र में अत्याधिक तेज़ विकास देखा है।

टेलिकॉम रेगुलेटरी ऑथोरिटी ऑफ इंडिया ( TRAI) की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में इंटरनेट कनेक्शन की संख्या में एक वर्ष में 17 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या जो पिछले वर्ष मार्च में 42 करोड़ ( 420 मिलियन) थी, सितंबर 2018 में यह बढ़ कर 56 करोड़ ( 560 मिलियन ) पर पहुंच गई। पिछले 2 वर्षों में 22 करोड़ ( 220 मिलियन) नए इंटरनेट कनेक्शन जोड़े गए हैं।

वर्ष 2016 में भारत में इंटरनेट कनेक्शन 34 करोड़ पर रहा।

कुल कनेक्शन का 65 प्रतिशत भाग शहरी क्षेत्रों का रहा जिसमें सबसे अधिक योगदान रिलायंस जिओ के प्रवेश का रहा। TRAI ने कुछ समय पहले आई एक रिपोर्ट में कहा था जिओ एकमात्र ऐसा टेलीकॉम ऑपरेटर है जिसने सितंबर में नए उपयोगकर्ता जोड़े।

कुल इंटरनेट कनेक्शन में से 36 प्रतिशत ( 19.4 करोड़) ग्रामीण क्षेत्रों से है। ग्रामीण इलाकों में बढ़ी इस संख्या का का श्रेय सरकार द्वारा इंफ्रास्ट्रक्चर निर्मित करने की पहल को जाता है।

ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि अगले 2 सालों में, ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे क़रीबन 315 मिलियन भारतीय, इंटरनेट से जुड़ जाएंगे। BCG स्टडी के अनुसार, ग्रामीण भारत की हिस्सेदारी 48 प्रतिशत तक हो जाने की उम्मीद है। यह पाया गया है कि फिलहाल अधिकतर ग्रामीण उपयोगकर्ता, इंटरनेट का प्रयोग मुख्यतः सोशल नेटवर्क वेबसाइट और ई मेल सेवाओं के लिए करते हैं।

रिपोर्ट में आगे यह भी कहा गया है कि छह राज्य जिनमें, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, गुजरात और महाराष्ट्र शामिल हैं, में सम्पूर्ण भारत के सबसे अधिक इंटरनेट कनेक्शन हैं।

Reply
Forward

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here