फ्लिप्कार्ट ने वीडियो स्ट्रीमिंग योजना की पुष्टि की; अधिग्रहण व साझेदारी पर विचार

Flipkart

जिओ के प्रवेश के साथ ही, वीडियो स्ट्रीमिंग बाज़ार, भारत में एक उभरता हुआ क्षेत्र बनता जा रहा है। इस वर्ग में मौजूद अवसरों को महसूस करते हुए, वैश्विक समूह जैसे ऐमज़ॉन प्राइम और नेटफ्लिक्स ने वर्ष 2016 में इस क्षेत्र में भारत में प्रवेश किया था। उपयोगकर्ताओं को बांधे रखने के लिए उन्होंने स्थानीय दर्शकों के लिए नई व मूल सीरीज़ भी शुरु की।

फ्लिप्कार्ट के सबसे नज़दीकी प्रतिद्वंद्वी ऐमज़ॉन के इस क्षेत्र में रुचि दिखाने के बावजूद भी, वीडियो स्ट्रीमिंग कभी भी फ्लिप्कार्ट के लिए प्राथमिकता नहीं रही। पर अब ऐसा नहीं है। वॉलमार्ट के प्रभुत्व वाली यह कंपनी क़रीबन $500 मिलियन मूल्य के वीडियो स्ट्रीमिंग बाज़ार, जिसके वर्ष 2022 तक $5 बिलियन का आंकड़ा छू लेने की संभावना है, पर अपनी नज़र जमा रही है।

कंपनी के सीईओ कल्याण कृष्णमूर्ति के अनुसार, फ्लिप्कार्ट,वीडियो स्ट्रीमिंग क्षेत्र में सेवाएं प्रदान करने के लिए कई विकल्प तलाश रहा है जिनमें साझेदारी और अधिग्रहण भी शामिल हैं। इससे पहले उसकी हॉटस्टार में हिस्सेदारी को लेकर बातचीत जारी थी।

हालांकि कृष्णामूर्ति ने यह साफ किया था कि कंपनी, स्वयं एक वीडियो स्ट्रीमिंग मंच का निर्माण करने का लक्ष्य नहीं रखेगी। उनके अनुसार, फ्लिप्कार्ट का उपयोगकर्ता आधार मुख्यतः 18-35 वर्ष की आयु वर्ग का है और ऐसे दर्शकों का वीडियो कॉन्टेंट के साथ जुड़ाव काफी महत्वपूर्ण होता है।

क़रीबन छह महीने, फ्लिप्कार्ट ने हॉटस्टार के साथ साझेदारी करते हुए वीडियो विज्ञापन मंच – शॉपर ऑडियंस नेटवर्क की शुरुआत की थी। यह मंच ब्रांड, क्रेता या विक्रेताओं को, देश की सबसे बड़ी स्ट्रीमिंग साइट पर व्यक्तिगत वीडियो एडवरटाइजिंग के माध्यम से लक्षित विज्ञापन प्रस्तुत करने में सहायता करता है।

फिलहाल नेटफ्लिक्स के भारत में 5-7 लाख सब्सक्राइबर हैं वहीं ऐमज़ॉन और हॉटस्टार के 13 मिलियन व 5 मिलियन उपयोगकर्ता हैं। हॉटस्टार का दावा है कि कुल मिलाकर उसके 100 मिलियन मासिक सक्रिय उपयोगकर्ता हैं।

ऊपर उल्लेखित कंपनियों के अतिरिक्त, अलीबाबा भी OTT मंच शुरु करने की योजना बना रहा है जिसका फोकस मनोरंजन केंद्रित छोटे वीडियो ( 20 मिनट से कम) पर होगा। पर ऐसा प्रतीत होता है कि यह योजना अभी कुछ समय के लिए टाल दी गई हैं।

गौरतलब है कि फ्लिप्कार्ट ने Flyte के साथ मिलकर ऑडियो कंटेंट क्षेत्र शुरु करने की कोशिश भी की थी। Flyte वर्ष 2012 में Digital Right Management ( DRM) मुफ़्त म्यूजिक कैटेलॉग उपलब्ध कराता था। अपनी सेवा की शुरुआत के एक वर्ष के भीतर ही इसने अपना संचालन बंद कर दिया था।

हालांकि फ्लिप्कार्ट की वीडियो स्ट्रीमिंग सेवा शुरू करने की योजना अभी आरंभिक चरण पर है व कुछ भी स्पष्ट नहीं है, यह देखना रुचिकर होगा कि इस क्षेत्र में देर से प्रवेश करने पर फ्लिप्कार्ट किस प्रकार ऐमज़ॉन, नेटफ्लिक्स व अन्य मौजूदा खिलाड़ियों की बराबरी कैसे करेगा।

यह ख़बर सर्वप्रथम ब्लूमबर्ग क्विंट द्वारा रिपोर्ट की गई थी।

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here