फेसबुक की निगाह भारत में रेमिटेंस बाज़ार पर ; व्हाट्सएप ट्रांसफर के लिए क्रिप्टो को विकसित करने की योजना

सोशल नेटवर्किंग क्षेत्र में एक दिग्गज कंपनी के रूप में स्थापित, फेसबुक (Facebook) खुद की डिजिटल मुद्रा विकसित करने वाली पहली टेक फर्म बन सकती है।

कंपनी के करीबी सूत्रों ने कहा, सोशल नेटवर्किंग कंपनी अपने मैसेजिंग एप उपयोगकर्ताओं के लिए एक स्थिर क्रिप्टोकरेंसी विकसित करने की योजना बना रही है। इसका मुख्य फोकस भारत में धन प्रेषण बाजार (remittance market) पर है, जिसे दुनिया में सबसे बड़ा माना जाता है।

विश्व बैंक के अनुसार, पिछले साल भारत को प्रेषण के रूप में लोगों द्वारा लगभग $69 बिलियन भेजे गए।

कंपनी की अवधारणा एक डिजिटल कॉइन बनाने की है जिसे कथित तौर पर स्टेबलकॉइन (Stablecoin) कहा जाएगा, जिसका आसानी से दैनिक खरीदी के लिए उपयोग किया जा सकेगा और जिसका मूल्य डॉलर से जुड़ा होगा। इस कॉइन का डिज़ाइन, बिटकॉइन की तुलना में कम अस्थिर है।

एक बार अस्तित्व में आ जाने के बाद, यह नेटवर्क ट्रांसफर में पारदर्शिता लाएगा और इसके साथ ही, यह पूरी प्रक्रिया को आसान एवं सुचारू बना देगा।

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार, ब्लॉकचेन तकनीक क्षेत्र में संभावनाओं को तलाशने एवं इस तकनीक का मुद्रा विकास के लिए लाभ उठाने हेतु, इस सोशल नेटवर्किंग दिग्गज ने एक नई टीम भी बनाई है।

हालांकि, यह अतीत में कंपनी द्वारा लिए गए स्टैंड के ठीक विपरीत है। इस साल की शुरुआत में, फेसबुक ने अपने मंच पर क्रिप्टो विज्ञापन प्रतिबंध लगाया था, जिसमें कहा गया था कि मंच द्वारा उन विज्ञापनों को प्रतिबंधित किया जाएगा, जो भ्रामक वित्तीय उत्पादों और सेवाओं एवं इससे जुड़े प्रतिबंधित अभ्यासों को बढ़ावा देते हैं।

कंपनी, भारत को अपने प्रमुख बाजारों में से एक मानती है।

देश में 200 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं के साथ, व्हाट्सएप (WhatsApp) सबसे लोकप्रिय एप में से एक है। जनवरी में, कंपनी ने व्हाट्सएप बिजनेस शुरू किया था, जिससे व्यवसायों को एक प्रोफ़ाइल बनाने और एप पर अपने ग्राहकों को संदेश भेजने की अनुमति मिल सके।

नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक के स्वामित्व वाला यह मंच, भारत सरकार, नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया (एनपीसीआई), और कई बैंकों (जिसमे भुगतान सेवा भी प्रदाता शामिल हैं) के साथ मिलकर काम कर रहा है, जिससे आम जनता के लिए कंपनी की भुगतान सुविधा, व्हाट्सएप पे (WhatsApp Pay) का विस्तार किया जा सके।

वर्तमान में, व्हाट्सएप पे एक बीटा लॉन्च के हिस्से के रूप में लगभग 1 मिलियन उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध है।

पिछले महीने, व्हाट्सएप ने अभिजीत बोस को भारत के अपने प्रमुख के रूप में नियुक्त किया था। बोस को कैलिफोर्निया के बाहर व्हाट्सएप की पहली पूर्ण देशीय टीम बनाने का काम सौंपा गया है, जो गुरुग्राम में स्थित होगा।

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here