बिन्नी बंसल ने फ्लिप्कार्ट से निकास के लिए वॉलमार्ट से $100 मिलियन के तत्काल भुगतान की बातचीत की

Flipkart

फ्लिपकार्ट (Flipkart) समूह के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अध्यक्ष, बिन्नी बंसल, वॉलमार्ट (Walmart) से नकद भुगतान प्राप्त करने के लिए ताजा शर्तों पर बातचीत कर रहे हैं।

इस विकास से जुड़े करीब सूत्रों के मुताबिक, फ्लिपकार्ट में 4.24 फीसदी हिस्सेदारी रखने वाले बंसल को कंपनी से बाहर निकलने के बाद लगभग $100 मिलियन का तत्काल भुगतान मिल सकता है। शेष राशि का भुगतान अगस्त 2020 तक किया जाएगा, उन्होंने कहा।

कंपनी से बाहर निकलने से पहले के अपने अनुबंध के अनुसार, फ्लिपकार्ट सह-संस्थापक को वॉलमार्ट से फ्लिपकार्ट में अपनी हिस्सेदारी के आधे हिस्से के लिए नकद, दो साल बाद मिलेगा। मिंट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि बिन्नी बंसल ने वॉलमार्ट से मिले भुगतान का इस्तेमाल, अपने दूसरे स्टार्टअप में निवेश करने के लिए किया है।

फ्लिपकार्ट से बाहर निकलने के बाद, बिन्नी पूर्व फ्लिपकार्ट कार्यकारी और मैकिंसे (Mckinsey) सलाहकार, साईकिरण कृष्णमूर्ति के साथ मिलकर एक और स्टार्टअप, xto10x लॉन्च करने के लिए साथ काम कर रहे हैं।

इस विकास से जुड़े लोगों के हवाले से इकोनॉमिक टाइम्स ने रिपोर्ट किया, यह स्टार्टअप, सैप (SAP), कोर्सएरा (Coursera) और मैकिंसे का संयोजन होगा क्योंकि वे नए युग का एक परामर्श मॉडल बनाना चाहते हैं।

नए उद्यम का लक्ष्य, पारंपरिक परामर्श फर्मों को कड़ी प्रतिस्पर्धा देना है, इसके लिए यह स्टार्टअप तकनीक-समर्थित समाधान और रणनीति एवं संचालन समाधान के लिए टूल जैसी सेवाएं पेश करेगा। यह बी और सी सीरीज स्टार्टअप की सेवा करेगा। स्केलिंग के लिए स्टार्टअप को सलाह देने और उनकी मदद करने के अलावा, यह कोर्सवेयर, इवेंट्स रिफरेन्स मामलों और सलाहकारों तक पहुंच का निर्माण एवं इन सेवाओं को क्यूरेट करेगा।

जहाँ साईकिरण को उद्यम में मुख्य कार्यकारी अधिकारी की भूमिका निभाने के लिए कहा जायेगा, वहीँ बिन्नी स्टार्टअप के अध्यक्ष बन सकते हैं।

नवंबर में, यौन उत्पीड़न का आरोप, उचित परिश्रम की कमी, और निर्णय में चूक के सबूत सामने आने के बाद बिन्नी ने समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और फ्लिपकार्ट में अध्यक्ष की भूमिकाओं से इस्तीफा दे दिया था।।

हालांकि, बिन्नी ने उनके खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों का खंडन किया था।
फ्लिपकार्ट के दूसरे सह-संस्थापक, सचिन बंसल ने इस साल मई में फ्लिपकार्ट को अचानक छोड़ दिया था। फ्लिपकार्ट से अपने सभी संबंधों को खत्म करलेने के बाद, सचिन ने अपनी खुद की वीसी फर्म को फ्लिपकार्ट-वालमार्ट डील से मिले पैसों से शुरू किया था।

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here