रीब्रांडेड ऐप B-fresh के साथ हाइपरलोकल वितरण मॉडल की ओर रुख किया Baxi ने

हाइपरलोकल डिलीवरी क्षेत्र में एक बड़े अवसर को देखते हुए, बाइक राइड-हेलिंग एप बैक्सी (Baxi) ने आधिकारिक तौर पर अपने व्यवसाय का रुख बदला है और अब वे किराने का सामान, फार्मास्यूटिकल्स, स्वास्थ्य पूरक, व्यक्तिगत देखभाल उत्पाद, भोजन और डेयरी उत्पादों को ग्राहकों तक पहुँचाएगा ।

बैक्सी ने खुद को बी-फ्रेश (B-Fresh) के रूप में रीब्रांड भी किया है और यह नए एप के तहत उपरोक्त श्रेणियों में उत्पादों का वितरण करेगा।

चार साल पुराना यह स्टार्टअप, हाइपर-लोकल डिलीवरी व्यवसाय में प्रवेश करने के लिए कई एफएमसीजी खिलाड़ियों के साथ बातचीत कर रहा है। अब तक, इसने पतंजलि, मदर डेयरी एवं सफल (डेयरी प्रमुख के स्वामित्व वाला एवं एनसीआर में संचालित, फलों और सब्जियों का एक संगठित खुदरा नेटवर्क), जैसे घरेलू उपभोक्ता वस्तुओं के ब्रांडों के साथ भागीदारी की है।

यूएस-आधारित इंस्टाकार्ट (Instacart) की तर्ज पर, बी-फ्रेश उन रिटेल चेन के साथ गठजोड़ करेगा जिनकी महत्वपूर्ण भौतिक उपस्थिति है, लेकिन उनके एप नहीं हैं।

अपने नए मॉडल के तहत, बी-फ्रेश ने अपने मंच पर 800 वितरण अधिकारियों को नियुक्त किया है और वे मदर डेयरी के माध्यम से 2,000 से अधिक दुकानों से उत्पाद वितरित करेंगे। इसके अतिरिक्त, आशुतोष जौहरी की अगुवाई वाला स्टार्टअप, पतंजलि के साथ बातचीत कर रहा है ताकि इसके साथ और अधिक चेन जोड़ी जा सके।

वर्ष 2014 में जौहरी और मनु राणा द्वारा शुरू किया गया, बैक्सी को अपनी बाइक टैक्सी सेवा को इकाई अर्थशास्त्र, उपभोक्ता मांग की कमी और अनिश्चित नियामक वातावरण के कारण बंद करना पड़ा।

गुरुग्राम स्थित इस स्टार्टअप ने नवंबर 2015 में हाई-नेट-वर्थ व्यक्तियों के एक समूह से सीड निवेश के दौर में $1.4 मिलियन जुटाने में कामयाबी हासिल की थी। जुलाई में, इसने निवेशकों के एक और समूह से नए निवेश हासिल किए थे।

आगे बढ़ते हुए, बी-फ्रेश को बिगबास्केट (BigBasket), ग्रोफर्स (Grofers) जैसे अन्य खिलाड़ियों के मुकाबले भारी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा।
यह विकास इकॉनोमिक टाइम्स द्वारा रिपोर्ट किया गया था

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here